Wild life crossing or Ecoduct

2
1981
views

Wild life crossing or Ecoduct

Ecoduct

Wild life crossing या ecoduct बनाये जाने के कारण NH -7 चर्चा का विषय है | जब NH 7 पर 16 km लम्बा फ्लाईओवर का निर्माण किया गया है | इस फ्लाईओवर में वन्य जीवों के आवागमन के लिए 5 अंडर पास तथा 4 छोटे ब्रिज दिये गए है | इनमे वन्य जीवों के गुजरने के वीडियोस भी लगातार प्राप्त हो रहे है | यह पेंच नेशनल पार्क तथा कान्हा नेशनल पार्क के कॉरीडोर को जोड़ने का कार्य करता है| इन्ही वन्यजीवों के आवागमन के रास्तों को ecoduct या willife crossing कहा जाता है |

What is Ecoduct –

मनुष्य अपने यातायात की सुविधा को बढ़ाने के लिए लगातार जंगलों को काट रहा है और लगातार सड़क बनाते जा जा रहा है | जंगलों के लगातार कटने के कारण , जंगलों से सड़क मार्ग बनाने के कारण जंगली जानवरों के स्वच्छंद विचरण में बाधा उत्पन्न होने लगी है | विश्व के अनेक देशों में इस समस्या का समाधान निकाला गया है और इस समस्या के समाधान का नाम है “Ecoduct” या “wildlife Crossings”

What is wildlife crossing /Ecoduct

ऐसी संरचना जो जानवरों को मानव निर्मित बाधाओं को सुरक्षित रूप से पार करने की सुविधा प्रदान करती है , वन्यजीव क्रॉसिंग या इकोडक्ट कहलाती है | इस प्रकार की संरचना वन्यजीवों को हादसों से से हादसों से बचाने के लिए बनाए जाते हैं | इस प्रकार के वन्यजीव क्रॉसिंग बड़े जीवो या झुंड में रहने वाले जीवो के लिए underpass tunnel या wildlife tunnel, viaduct, overpasses या green bridges के रूप में होते हैं | बंदर तथा गिलहरी जैसे प्राणियों के लिए amphibian tunnel, fish ladders, canopy bridge होते हैं | वहीं पर छोटे-छोटे मैमल्स जैसे otters, hedgehogs और badgers के लिए tunnels, culvert जबकि तितलियों तथा पक्षियों के लिए green roofs बनाए जाते हैं |

Example of wildlife crossing-

source of image wikipedia

विश्व के अनेक हिस्सों में इस प्रकार की वाइल्डलाइफ क्रॉसिंग बनाए गए हैं | जैसे नीदरलैंड के गिल्डरलैंड इलाके में, बनफ नेशनल पार्क कनाडा में, दक्षिणी कैलिफोर्निया में, इनके अलावा आस्ट्रेलिया, मोंटाना, वाशिंगटन और कुछ अन्य देशों में भी छोटे बड़े ईकोडक्ट बनाए गए हैं |
यदि हम भारत की बात करें तो ऐसे रास्ते जो जंगलों की ओर से गुजरते हैं | जंगली प्राणियों को गुजरने के लिए यहां पर सुरंग बनाए गए है | जंगलों से गुजरने वाले नहर के ऊपर से जंगली जानवरों एवं पालतू जानवरों को गुजरने के लिए भी bridge बनाए गए | इसका सबसे अच्छा उदाहरण अन्नामलाई टाइगर रिजर्व में पाए जाने वाला कैनोपी ब्रिज है | नेशनल हाईवे नंबर 7 [NH -7] कुरई तथा रुखड़ के बीच पेंच नेशनल पार्क तथा कान्हा राष्ट्रीय उद्यान के बीच में कॉरिडोर को जोड़ने के लिए इस तरह की पुल बनाए जा रहे हैं |

Biosphere Reserve

Benefits of Crossing Bridge

Animal under pass [source of image – wikipidea ]

इस प्रकार के ब्रिज  बनाने का सबसे बड़ा फायदा वाइल्ड लाइफ कंजर्वेशन को बढ़ावा देना है |
सड़क मार्ग से गुजरने वाले तेज रफ्तार वाहनों की वजह से  जंगली जानवर  के टकराने की आशंका बहुत ज्यादा होती है जिससे जान-माल की नुकसान तथा जंगली जानवरों की जंगली जानवरों के दुर्घटनाग्रस्त होने की आशंका बहुत बढ़ जाती है | इस समस्या का समाधान क्रॉसिंग ब्रिज/ ईकोडक्ट बनाकर किया जा सकता है |
Crossing bridge / ecoduct के द्वारा दो नेचुरल हैबिटेट को आपस में जोड़ा जा सकता है | जिससे दोनों नेचुरल हैबिटेट में पाए जाने वाले वन्यजीव एक दूसरे में आसानी के साथ आ जा सके| इसी प्रकार का ecoduct NH-7 पर बनाया जा रहा है जो पेंच तथा कान्हा नेशनल पार्क कॉरिडोर जोड़ने  का कार्य करेगा | इस 16.1km लम्बे  फ्लाईओवर पर NHAI  द्वारा 9 mitigration structure  बनाए गए हैं |  इनमें 50 से 750 मीटर की संरचनाओं में पांच एनिमल अंडरपास तथा चार छोटे ब्रिज  है | अंडर पास के अंतर्गत 6.6 किलोमीटर क्षेत्र जंगलों का आता है |  इन अंडर पास से अनेक वन्य प्राणियों को सीसीटीवी कैमरा के द्वारा जाते हुए देखा गया है | जिनमें गोल्डन जैकाल केंदुआ बाघ भालू जंगली कुत्ते आदि शामिल है | इन्हीं वन्य प्राणियों में छोटे आकार के स्थानीय जैसे जंगली बिल्ली, नेवला,  खरगोश, porcupine भी शामिल है | इनके अलावा और सांभर, चीतल,  जंगली सूअर भी रास्ता को पार  करते हुए रिकॉर्ड किए गए हैं |
एक अन्य फायदा इन रास्तों से गुजरने वाले व्यक्ति wild life, wild animals  को आसानी के साथ देख सकते हैं |

सारांश –

उम्मीद करूंगा यह लेख आपको पसंद आएगा | यदि आपको यह लेख पसंद आये तो अपनी प्रतिक्रिया कमेंट बॉक्स में जरूर दें | आपके यहां कहीं पर इस तरह के अंडर पास हो तो जरूर उनकी फोटो सेंड करे | इस प्रकार के अंडर पास वन्य प्राणियों के संरक्षण में अपना महत्वपूर्ण योगदान देंगे इन्हीं शुभकामनाओं के साथ |

REFERENCES :-

  1. GOOGLE WIKIPEDIA for more information visit [https://en.wikipedia.org/wiki/Google]
  2. www.unusualplaces.org

Previous articleMSQs on Human Reproduction with Answer
Next articleReproduction in Organism – Quiz 3
यह website जीव विज्ञान के छात्रों तथा जीव विज्ञान में रुचि रखने को ध्यान में रखकर बनाई गई है इस वेबसाइट पर जीव विज्ञान तथा उससे संबंधित टॉपिक पर लेख, वीडियो, क्विज तथा अन्य उपयोगी जानकारी प्रकाशित की जाएगी जो छात्रों तथा प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे प्रतियोगियों के लिए महत्वपूर्ण सिद्ध होगी इन्हीं शुभकामनाओं के साथ|
SHARE

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here